चीनी विदेश मंत्री को एस. जयशंकर की दो टूक, सीमा समझौतों का पालन करे चीन, सीमा पर गुस्ताखी की तो खैर नहीं

नई दिल्लीः सीमा पर जारी तनाव के बीच मॉस्को में भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर और चीनी विदेश मंत्री वांग यी के साथ 2 घंटे से ज्यादा वक्त तक बैठक चली। विदेश मंत्रियों की मुलाकात रूस में शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) की बैठक से इतर हुई। बैठक के दौरान भारत ने एलएसी पर बढ़ते सैनिक का मुद्दा उठाया। बाद में दोनों के बीच तनाव कम करने के लिए 5 प्वाइंट पर सहमति बनी। दोनों देश मौजूदा समझौतों का पालन करते रहेंगे. भारत ने कहा कि उम्मीद है कि चीन समझौतों का सम्मान करेगा जो सरहद के प्रबंधन से जुड़े हैं।

सूत्रों के मुताबिक बैठक में भारतीय पक्ष ने स्पष्ट रूप से कहा कि इससे सीमा क्षेत्रों के प्रबंधन पर सभी समझौतों का पूर्ण पालन होने की उम्मीद है और यथास्थिति को बदलने की किसी भी कोशिश को स्वीकार नहीं किया जाएगा। बता दें, रूस की राजधानी मॉस्को में शंघाई सहयोग संगठन से इतर हुई बैठक में विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने चीनी विदेश मंत्री वांग यी के सामने बॉर्डर के हालात पर चर्चा की और साफ कहा कि चीन को बॉर्डर से अपने बढ़ती सैनिकों की संख्या कम करनी चाहिए।

Leave a Reply